दलितों की मसीहा बनने वाली मायावती राजेश की हत्या पर कब मुँह खोलेंगी ? : राकेश सिन्हा



केरल की  त्रिवंतपुरम में पिछले दिनों एक और हिन्दू की बर्बरता से हत्या की गयी 
राजेश नाम के हिन्दू को इसलिए क़त्ल कर दिया गया क्यूंकि उसने वामपंथियों के संगठन को ज्वाइन करने से इंकार करते हुए बीजेपी को ज्वाइन किया 

बता दें की राजेश एक दलित था, एक दलित की हत्या वामपंथियों ने की 
ये वही  वामपंथी है जो आये दिन दलित दलित करते रहते है, पिछले 1 साल में इन वामपंथियों ने केरल में राजेश जैसे 4 दलितों की हत्या की है 

राष्ट्रवादी विचारक राकेश सिन्हा ने इस मुद्दे पर मायावती से बड़ा सवाल पूछा है 
बता दें की मायावती भी एक दलित है, और वो जीवन भर दलितों की राजनीती करते हुए आयी है, मायावती खुद को दलितों की मसीहा भी बताती है, दलितों की बेटी भी बताती है 
मायावती इस देश में दलितों की सबसे बड़ी नेता बनती है 


राकेश सिन्हा ने मायावती से सवाल किया की राजेश भी एक दलित था, उसकी केरल में हत्या की गयी है 
दलितों की मसीहा बनने वाली मायावती राजेश के मुद्दे पर अपना मुँह कब खोलेंगी 
राजेश भी दलित था, पर मायावती के मुँह से शब्द तक नहीं निकल रहे 

राकेश सिन्हा ने NDTV के कुख्यात पत्रकार रविश कुमार जिसका असली नाम रविश कुमार पांडेय है 
उस से भी सवाल किया और कहा की, आप तो दलितों की खूब बातें करते है 
आप एक दलित राजेश की हत्या पर क्यों चुप है ? 

Image result for RAVISH KUMAR
कुख्यात पत्रकार रविश कुमार पांडेय

बता दें की रविश कुमार पांडेय भी एक वामपंथी ही है, पत्रकार बनने से पहले वामपंथी छात्रसंगठन से जुड़ा हुआ था, बाद में NDTV में जुड़ गया 

राकेश सिन्हा तमाम उन लोगों से सवाल कर रहे है जो देश में दलित दलित करते फिरते है 
पर ये सभी लोग राजेश की हत्या पर 1 शब्द तक नहीं बोल रहे