भगवा ही भगवा : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जा रहे जिहादियों के काल विराथु के देश म्यांमार !


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी , जिनके तन से भगवा शायद पल भर के लिए भी अलग नहीं हुआ है वो एक मुख्यमंत्री के तौर पर अपनी पहली विदेश यात्रा पर जाने वाले हैं . 

जहाँ पहले तमाम राजनेताओं की विदेश यात्रायें यूरोप या खाड़ी देशों तक सीमित रहती थी जिसके पीछे वोटों को साधने की कहीं ना कहीं मंशा हुआ करती थी यद्द्पि उसका लाभ कहीं भी कभी भी जमीनी स्तर पर दिखाई भी नहीं पड़ता था वहीँ योगी आदित्यनाथ जी शायद एक बिलकुल नयी प्रकार की पहल करने जा रहे हैं .

योगी आदित्यनाथ जी अपनी मुख्यमंत्रित्व काल की पहली यात्रा करेंगे भगवा वेशधारी और बौद्धों के स्वाभिमान के प्रतीक बन कर उभरे देश म्यंमार की . योगी आदित्यनाथ जी पहले से ही हिन्दुओं और बौद्धों को एक ही परिवार का दो भाई मानते हैं और यकीनन उनके जाने से भारत और म्यंमार के रिश्ते भगवा और धर्म के आधार पर मजबूत होंगे .

हाल ही म्यंमार के ऊपर रोहिंग्या मुलिमों के कत्लेआम का जबरदस्त आरोप लगा और ये बतया जा रहा है की वहां के कई इलाके मुस्लिमों से खाली हो गए. यद्द्पि ये कदम बौद्धों ने काफी परेशान हो कर आये दिन होने वाली लूट , हत्या और बलात्कार की घटनाओं से तंग आ कर उठाया था .

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 5 अगस्त को म्यांमार जाएंगे। मुख्यमंत्री वहां 6 अगस्त को विवेकानंद इंटरनेशनल फाउंडेशन की ओर से 'वैश्विक शांति एवं पर्यावरण' विषय पर आयोजित संगोष्ठी में शिरकत करेंगे। 7 अगस्त को उनकी स्वदेश वापसी होगी। राज्य सरकार के प्रवक्ता के अनुसार मुख्यमंत्री 4 अगस्त को लखनऊ से दिल्ली रवाना होंगे। 

उनके आगमन की सूचना से वहां मौजूद धार्मिक नेताओं में उनसे मिलने की जबरदस्त इच्छा है क्योंकि भारत के हिंदुत्व , भगवा व् धार्मिक हस्तियों में से योगी आदित्यनाथ वर्तमान समय में सबसे चर्चित शख्सियत माने जा सकते हैं .