कश्मीरी महिलाओं में जश्न, बोली "घरों में घुसकर इज़्ज़त से खेलता था दुजाना, सेना ने मारकर अच्छा किया"


कश्मीर घाटी के पुलवामा जिले में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। सुरक्षाबलों के साथ हाकरीपोरा गांव में मुठभेड़ में लश्कर कमांडर अबु दुजाना मारा गया है। 

अबु दुजाना की मौत पर कश्मीरी लड़कियों ने सेना को धन्यवाद दिया है। लड़कियों ने खुलासा किया कि अबु घाटी के किसी भी घर में घुसकर अय्याशी करता था। आज सेना ने उसे मार दिया। जिसके बाद हम सुरक्षित रहेंगी। वहीं सोशल मीडिया पर भी सेना को धन्यवाद कहा जा रहा है।

दुजाना के साथ एक स्थानीय आतंकी आरिफ ललहारी भी मारा गया है। सुरक्षाबलों ने उस घर को आग लगा दी जिसमें आतंकियों के छिपे होने की खबर थी। अबु दुजाना लश्कर का टॉप कमांडर था। 

   हर बार की तरह इस बार भी पत्थरबाजों की भीड़ दुजाना को बचाने आई थी लेकिन जवानों ने उन पर फायरिंग कर दी। जिसके बाद सारे पत्थरबाज भाग उठे।

पिछले कई महीनों से सुरक्षाबलों ने दुजाना का मारने के लिए कई ऑपरेशन चलाए थे। उसपर सुरक्षाबलों ने 10 लाख का इनाम घोषित कर रखा था।

पुलवामा के हाकरीपोरा गांव में सेना ने तड़के साढ़े चार बजे से ही घेरा डाल रखा था। आतंकियों के एक घर में छिपे होने की खबर थी। जवानों ने इसे घेर लिया। अंदर से आतंकियों ने गोलीबारी की।

सीआरपीएफ की 182 बटालियन, 183 बटालियन, 55 राष्ट्रीय राइफल और एसओजी की टीम ने इलाके को घेरकर सर्च अभियान शुरू किया। सुरक्षाबलों को इलाके में आतंकियों के मौजूद होने की खबर मिली थी। इसके बाद सुरक्षाबलों ने हाकरीपोरा में घेरा डाला।

19 जुलाई को भी सेना ने अबु दुजाना को घेरा था। पुलवामा के बंदेरपुरा गांव में सेना और एसओजी के जवानों ने अबु दुजाना को पकड़ने के लिए जाल बिछाया था। मगर दुजाना चकमा देकर फरार हो गया था। इससे पहले मई महीने में भी सुरक्षाबलों ने हकरीपोरा गांव में ही सुरक्षाबलों ने दुजाना की घेराबंदी की थी। खबर मिली थी कि अबु दुजाना अपने साथियों के साथ गांव में छिपा है। जिसे पकड़ने के लिए सेना ने ऑपरेशन चलाया। उस दौरान गांववालों की पत्थरबाजी के बीच अबु दुजाना फरार होने में सफल रहा था।

बता दें कि सेना कश्मीर से आतंकियों का सफाया करने के लिए 'ऑपरेशन ऑलआउट' अभियान चलाया है। इसके तहत आतंकियों की एक लिस्ट तैयार की गई है। जिसके आधार पर अलग-अलग इलाकों में आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन उन्हें ढेर किया जा रहा है। अब तक इस ऑपरेशन के तहत करीब 100 आतंकियों को घाटी में ढेर किया जा चुका है। दो दिन पहले पुलवामा के तहाब इलाके में सुरक्षाबलों के ऑपरेशन में हिज्बुल के दो आतंकी ढेर हो गए थे।

इससे पहले सोमवार को कश्मीर के बोनिता सेक्टर में सुरक्षा बलों को नियंत्रण रेखा के पास एक आतंकवादी का शव मिला। शनिवार रात तोरना पोस्ट पर नियंत्रण रेखा के पास संदिग्ध गतिविधि नजर आने पर सेना के जवानों ने गोलियां चलाईं। सोमवार को इलाके में तलाशी अभियान के दौरान आतंकी का शव बरामद हुआ। अधिकारियों ने बताया कि घटनास्थल से एक राइफल भी बरामद हुई।