गुजरात में राहुल की गाड़ी पर हुए हमले का बड़ा सच आया सामने शर्म से झुका कांग्रेस का सिर !


गुजरात में राहुल की गाड़ी पर हुए हमले का बड़ा सच आया सामने शर्म से झुका कांग्रेस का सिर !

राहुल की सुरक्षा पर गुजरात सरकार की अनदेखी को लेकर कांग्रेस के ‘झूठ’ की खुली पोल,अब शर्म से झुका कांग्रेसी नेताओं का सिर !

कांग्रेस को लोगों के दुखों से कोई लेना देना नहीं है वो सिर्फ राजनीती करती आई है और आगे भी राजनीती ही करती जा रही है.गुजरात सहित पूरा भारत बाढ़ की चपेट में है लेकिन अभी गुजरात में चुनाव होने हैं इसलिए कांग्रेसी युवराज राहुल गाँधी गुजरात में राजनितिक रोटियां सेकने जा पहुंचे बाढ़ से उपजे हालात का जायजा लेने गुजरात गए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की गाड़ी पर जब आक्रोशित जनता ने पथराव किया तो कांग्रेस ने पूरा आसमान सिर पर उठा लिया.

आदत से मजबूर कांग्रेस ने बीजेपी पर निशाना साधा बड़े-बड़े कांग्रेसी नेताओं ने बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया जैसे की बीजेपी ने ये सब करवाया हो.कांग्रेसी नेताओं ने गुजरात सरकार पर सवाल खड़े कर दिए लेकिन जो जानबूझ कर राहुल गाँधी ने किया था उस पर चुप बैठे रहे.


जब राहुल गाँधी के लिए बुलेट प्रूफ गाडी दी जा रही थी तो राहुल गाँधी ने उसे लेने से मना क्यों किया ? क्या राहुल गाँधी जानते थे उनकी गाडी पर पथराव होना है और वो बुलेट प्रूफ गाडी लेकर जाएंगे तो उनकी गाड़ी को कोई नुकसान नहीं होगा और मीडिया में खबर नहीं बन पायेगी ?

ऐसे एक नहीं बहुत से सवाल है जो अब खड़े हो रहे हैं और इन सवालों का जवाब देने में पूरी कांग्रेस नाकाम है.भाजपा ने तो साफ कर दिया कि यह वही जनता अपना आक्रोश दिखा रही थी जिसे धोखा देकर कांग्रेस के विधायक संकट के वक्त बैंगलूरू में मजे कर रहे हैं.फिर गुजरात के उप मुख्यमंत्री ने भी कांग्रेस के आरोप का जोरदार खंडन कर दिया कि गुजरात सरकार ने राहुल की सुरक्षा को लेकर कोताही की।


कांग्रेस ने जो सबसे बड़ा आरोप लगाया वो यह कि गुजरात बीजेपी सरकार कोई भी करवाई इन आरोपियों पर नहीं कर रही है और ये आरोप किसी छोटे नेता ने नहीं बड़े नेता ने लगाए.यही नहीं सरकार पर पथराव करने वालों पर कार्रवाई नहीं करने को लेकर कांग्रेस के आरोपों की भी हवा तब निकल गई जबकि बनासकांठा के एसपी ने एफआईआर दर्ज करने की बात बताई.


निचे दी गयी विडियो डिबेट को आप जरूर सुने एक बार सच आपके सामने होगा !

'
कांग्रेस द्वारा खुद हमला करवाने का सबसे बड़ा शक तो यही है कि उन्होंने बिना सबूत के इसमें बीजेपी के गुंडों का हाथ बता दिया. दूसरा शक ये है कि जिस पत्थर से राहुल की कार पर हमला हुआ है उस पर कुछ निशान बनाया गया है, ऐसा लगता है कि उसपर कांच के निशान आ गए हैं जबकि पत्थर पर कांच का निशान आ ही नहीं सकता !