आतंकियों को ख़त्म कर सुवर के साथ दफनाना होगा, पकडे जाने पर सुवर खिलाना होगा : टॉमी रॉबिंसन



टॉमी रॉबिंसन मशहूर अंग्रेजी एक्टिविस्ट है 
जो हमेशा से इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ अपने संगर्ष के लिए जाने जाते रहे है 

अभी हाल ही में यूरोप में फिर एक बड़ा इस्लामी आतंकी हमला हुआ है 
ये हमला स्पेन के बार्सिलोना में हुआ है 

इस हमले में 13 लोगों का इस्लामिक हमलावरों ने क़त्ल कर दिया है, ये एक ट्रक अटैक था 
इस हमले के बाद इस्लामिक आतंकवाद और मुस्लिम शरणार्थियों को लेकर फिर एक बार बहस तेज हो गयी है 

बता दें की हमला करने वाले इस्लामिक हमलावर पश्चिमी एशिया के मुस्लिम देशों के थे 
कुछ लोग मुस्लिम शरणार्थियों का विरोध कर रहे है तो कुछ मानवाधिकार वाले इनकी वकालत कर रहे है 

इसी के बाद टॉमी रॉबिंसन ने मानवाधिकार वाली गैंग और इस्लामिक आतंकियों पर करारा हमला किया है 


टॉमी रॉबिंसन ने कहा है की, जिहादियों का कोई मानवाधिकार नहीं होता 
उनके लाशों को सुवर के साथ दफन करना चाहिए, अगर वो पकडे जाये तो जेल में उनको सुवर का मांस खिलाना चाहिए

बता दें की कहने को तो सेक्युलर तत्व कहते है की आतंक और आतंकी का कोई मजहब नहीं होता 
पर पकडे जाने पर, मारे जाने पर तुरंत इन आतंकियों का मजहब निकल आता है 
इन्हे मजहब के आधार पर दफनाया जाता है 

आतंकी 72 हूरों और जन्नत के लालच में ही आतंकवाद फैलाते है, आतंकियों को सुवर से डर लगता है 
चूँकि सुवर छू जाये तो जन्नत कैंसिल हो जाता है 
ऐसे में टॉमी रॉबिंसन का बयान अपने आप में विचार के योग्य है 

एक बात अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने भी कहा था की अगर आतंकियों को सुवर के खून में डूबी हुई 
गोली मारी जाये तो आतंकवाद ख़त्म किया जा सकता है 
एक अमरीकी जनरल, जनरल पर्शिंग ने भी ऐसा ही किया था जिसके बाद 35 सालों तक आतंकियों ने 
आतंकी हमला नहीं किया था 
loading...
Loading...



Loading...