जो बीजेपी नेता पकडे गए है, वो कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए थे, ये है एक बड़ी साजिश !



ये खबर बीजेपी के लिए खतरे की घंटी है 
बहुत से नेता और कार्यकर्त्ता बीजेपी में शामिल हो रहे है, ये कोई नयी बात नहीं है ये सब जानते है 
ऐसे ऐसे लोग भी जो घोर हिन्दू विरोधी रहे है, वो बीजेपी में शामिल हो रहे है 

सुनने और कहने में ये अच्छा लगता है की सबका हृदयपरिवर्तन हो रहा है 
पर ये बात पूरी सही नहीं है, बहुत से लोग षड्यंत्र और मौकापरस्ती के कारण भी बीजेपी में आ रहे है 

और ये मामला बेहद गंभीर है, बीजेपी को ध्यान देने की सख्त जरुरत है 
ये देखें क्या जानकारी सामने निकलकर आ रही है 


जो 3 बीजेपी के कार्यकर्त्ता पकडे गए है, ये कांग्रेस से ही बीजेपी में शामिल हुए थे 
और जरा घटनाक्रम पर जोर डालें 

राहुल गाँधी एक एसपीजी सिक्योरिटी प्राप्त राजनेता है...जिनके साथ 20 ब्लैक कैट कमांडो की टीम हमेशा रहती है इन में से कुछ कमांडो उनके चारो तरफ रहते हैं कुछ जनता में घुले मिले रहते हैं। उनकी गाड़ी पर पत्थर फेंकना इतना आसान नहीं है जितना की बताया जा रहा है। 

मान लीजिये यदि उस पत्थर की जगह यदि कोई बम होता तो क्या होता....? क्या कोई भी एसपीजी सिक्योरिटी प्राप्त नेता के ऊपर इतनी बड़ी वस्तु फेंके और सारे सुरक्षा गार्ड देखते रहें उस तथा कथित व्यक्ति को पकड़े भी नहीं ???? 

अब आते है इस के मुद्दे पर यदि राहुल के गुजरात के दौरे में इस पत्थर को यदि हटा दिया जाता है तो क्या बचता है....यही ना की सारा मीडिया चीख चीख कर उन से पूछती की गुजरात के 44 विधायक जो की जनता के सेवक हैं जनता को इस आपदा के समय में छोड़ कर कहाँ और क्यों चले गए ?? 

राहुल को मीडिया के इन सवालों का जवाब देना मुश्किल हो जाता.....मीडिया और जनता का ध्यान इन बातों से हटाने के लिए..... मीडिया में छाए रहने के लिए पत्थर काम आ गया यही भारतीय राजनीति है जो जलेबी की तरह सीधी है ।

षड्यंत्र के तहत कार्यकर्त्ता कांग्रेस से बीजेपी में भेजे गए, पत्थरबाजी की, पकडे गए, कुछ दिनों में जमानत मिल जाएगी खूब पैसा मिल ही चूका होगा इस काम के लिए 

बीजेपी में आ रहे नेताओं और कार्यकर्ताओं पर बीजेपी को नजर रखने की जरुरत है