नितीश ने गाय को बताया प्रकृति का वरदान, सभी गायों का ख्याल रखने का जारी किया आदेश !


अचानक ही बदल गया है बिहार. जिस बिहार में कभी जय श्री राम के नारों से लालू यादव के बेटे को दिक्कत हुआ करती थी भले ही वो भगवान कृष्ण के वेश में फोटो खिचवा लेते रहे हों , उसी बिहार में अचानक ही धर्म का मार्ग सबको दिखने लगा भले ही वो सत्ता के सर्वोच्च शिखर पर बैठे मुख्यमंत्री ही क्यों ना हो . नीतीश कुमार के आदेश से अचानक ही बिहार का माहौल बदल सा गया है जिस के बाद भाजपा शासित मुख्यमंत्री भी उनके जैसा बनने की कोशिश में लग गए हैं .

बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी ने तत्काल शासनादेश जारी करते हुए आदेश दिया है की पटना में अब एक भी गौ माता या गौ वंश सड़क पर आवारा घूमना नहीं दिखना चाहिए . यदि दिखा तो सम्बन्धित विभाग पर कठोर कार्यवाही होगी . उन्होंने आदेश दिया है की आवारा घूमने वाली गायों और बैलों को विधिवत साफ़ सुथरी गौशाला में ऱख कर उनके गोबर और और मूत्र का इस्तेमाल ऑर्गेनिक खाद बनाने में किया जाए . उन्होंने गौ वंश को प्रकृति व् इश्वर का एक बड़ा वरदान बताया है और उसके संवर्धन के लिए हर संभव प्रयास करने की अपनी व् अपनी सरकार की मंशा दोहरायी ...

मुख्यमंत्री के निर्देश पर ही पटना के जिलाधिकारी ने एक बड़ी गौ शाला का निर्माण करवाया है .. इस गौ शाला में गौ माता के लिए सभी प्रकार की सुविधाएँ आदि हैं जैसे चारा इत्यादि भी वहां बराबर मात्रा में उपलब्ध है .. श्री नीतीश जी ने आदेश दिया की गौ माता भले ही दुधारू ना हों पर उनको वहां उसी प्रकार रखा जाय जैसे दुधारू गाय आदि . 

उनके गौ मूत्र से व् उनके गोबर से खेती के लिए ऑर्गेनिक खाद आदि बनायी जायेगी जिस से किसानो को महंगी खाद आदि का खर्चा नहीं देना पड़ेगा ...इस अवसर पर बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी मौजूद थे. नीतीश कुमार और सुशील कुमार मोदी ने पटना के बीर कुंअर सिंह आजादी पार्क में पेड़ों को रक्षा सूत्र बांध कर रक्षाबंधन का त्योहार मनाया. इस अवसर पर नीतीश कुमार ने कहा कि वह 2011 से पेड़ों को रक्षा सूत्र बांध रहे हैं, ताकि लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता बढ़े.