अगर वंजारा ने सही समय पर एनकाउंटर नही किया होता तो आज हम मोदी को नही देख पाते !


जब कोर्ट ने डी जी बंजारा, राजकुमार पांडियन और एम एन दिनेश को सभी आरोपों से मुक्त करते हुए निर्दोष बरी कर दिया फिर इन लोगों ने जो जेल में 8 साल गुजारे हैं वह वक्त कौन इन्हे वापस लौट आएगा ??

सिस्टम के ऊपर मानहानि और हर्जाने का केस किया जाना चाहिए ......और सिस्टम मे उस समय कार्यकारी अधिकार को भी दण्डित किया जाना चाहिए ......

और हां यह कोई पंचर बनाने वाले लोग नहीं थे बल्कि यह सभी IPS अधिकारी थे ऐसे ही 8 आईपीएस अधिकारियों को कांग्रेस सरकार ने सिर्फ नरेंद्र मोदी को फासने के लिए बलि का बकरा बनाते हुए जेल में डाल दिया था

मोदी को फिदायीन हमले में उड़ाकर मार देने का था प्लान, इशरत सोहराबुद्दीन इत्यादि सभी नरेंद्र मोदी को मारने के लिए भेजे गए थे 
अगर वंजारा ने सही समय पे एनकाउंटर नही किया होता तो आज हम नमो को नही देख पाते??

Image may contain: 1 person, text

पर वो कहते है न की सत्य परेशान हो सकता है पर पराजित नहीं 
वैसा ही हुआ, कांग्रेस के तमाम षड्यंत्र विफल रहे और 2012 फिर 2014 में मोदी फिर जीते और अब डीजी वंजारा भी निर्दोष साबित हुए