त्रिपुरा में पूरी TMC इकाई बीजेपी में हुई शामिल, छोड़ा सांप्रदायिक दंगा दीदी का साथ !!


बीजेपी के निशाने पर अब त्रिपुरा: तृणमूल कांग्रेस यानि हिन्दू विरोधी ममता बनर्जी की पूरी इकाई बनी भाजपाई, स्‍थानीय दल में भी दो फाड़ !

जैसा की सभी जानते हैं अभी हाल ही में हुए पांच राज्‍यों के चुनाव में जो नतीजे सामने आए थे पंजाब को छोड़ हर जगह भगवा ही लहराया था इन चुनावी नतीजों में बीजेपी ने मणिपुर में कम सीटें मिलने के बाद सरकार बना लेने में कामयाब हुई थी.

अब बीजेपी इससे उत्‍साहित है और उसका अगला टारगेट अब त्रिपुरा है बीजेपी ने अपनी अब पूरी नजरें त्रिपुरा पर गाड दी हैं.आपकी जानकारी के लिए हम बता दें की अगले साल ही त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव होने हैं.बीजेपी इन चुनावों को अपने दम पर लड़ना चाहती है अकेले.

आपको बता दें कि हिन्दू विरोधी ममता बनर्जी की पार्टी TMC त्रिपुरा में काफी पकड रखती है लेकिन अब ममता बनर्जी को 420 वोल्ट का झटका लगा है क्योंकि तृणमूल कांग्रेस की पूरी राज्‍य इकाई बीजेपी में शामिल हो चुकी है.ये खबर मीडिया में भी दबी रही आज ये खबर आई है जबकि ये सब पिछले महीने ही हो गया था.

ऐसा इसलिए हुआ है ताकि बीजेपी को इसी साल आने वाले चुनावों में इसका फायदा ना मिल जाए क्योंकि किसी पार्टी को छोड़ कोई दूसरी पार्टी में जाता है तो उसी को फायदा होता है पर जो भी हो इतना समय दबे रहने के बाद आज ये खबर बाहर निकल ही आई.अभी त्रिपुरा में वामपंथी सरकार है और राज्‍य बीजेपी के प्रवक्‍ता मृणाल कांति देव ने विश्‍वास जताया कि उनकी पार्टी वामपंथी सरकार को सत्‍ता से बाहर कर देगी।

बीजेपी के अंदरूनी लोगों का कहना है कि पार्टी विरोधी दलों के सदस्‍यों को अपने साथ लेने, राज्‍य की सबसे बड़ी आदिवासी पार्टी में अनबन का फायदा उठाने और अलग राज्‍य की मांग को लेकर स्‍वायत्‍त त्विपरालैंड काउंसिल बनाने के वादे की रणनीति पर चल रही है.

लेकिन आपको बता दें की ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के लिए अभी भी अच्छी खबर नहीं है, पिछले सप्‍ताह उसके 400 पार्टी कार्यकर्ता भाजपाई बन गए.

टीएमसी कॉर्डिनेशन कमिटी के चेयरमैन रतन चक्रवर्ती के नेतृत्‍व में तृणमूल कार्यकर्ता भाजपा में शामिल हुए.इसके अलावा कांग्रेस से टीएमसी में गए छह में से तीन विधायक बीजेपी के करीब आ रहे हैं !