PM के साथ चीनी सीमा पर जायेंगे राष्ट्रपति, जवानो का बढ़ाएंगे हौंसला, सेना के सुप्रीम कमांडर भी हैं

Image result for ramnath kovind

देश के 14वें राष्ट्रपति के रूप में आज रामनाथ कोविंद शपथ ली। प्रधानमंत्री, प्रणब मुखर्जी और चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया की मौजूदगी में देश के नए राष्ट्रपति ने अपना कार्यभार संभाला। शपथ ग्रहण समारोह में कई बड़े दिग्गज शामिल हुए।  तमाम राज्यों के मुख्यमंत्री महामहिम की शपथ के साक्षी बने। रामनाथ के शपथ लेते ही संसद के सेंट्रल हॉल में जय श्री राम के नारे लगे। 

रामनाथ कोविंद अब देश के राष्ट्रपति बन चुके हैं। सूत्रों के अनुसार जल्द ही वे पीएम मोदी के साथ लद्धाख जाएंगे, जहां वे चीनी सीमा पर तैनात जवानों से मिलेंगे।

दूसरी तरफ आंकड़ों पर गौर करें तो वेंकैया नायडू का उपराष्ट्रपति बनना भी तय नजर आ रहा है। इसलिए जब नायडू चुनाव में जीत के बाद उपराष्ट्रपति पद का कामकाज संभालेंगे तो देश के राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री तीनों पदों पर संघ के स्वयंसेवक विराजमान होंगे। 

देश के 14वें राष्ट्रपति के रूप में रामनाथ कोविदं ने राष्ट्रपति पद की शपथ ले ली है। चीफ जस्टिस खेहर ने उन्हें राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाई। शपथ लेने के बाद अपने पहले संबोधन में राष्ट्रपति कोविंद ने शपथ लेने के बाद रामनाथ कोविंद ने अपने संबोधन में कहा कि मुझे भारत के राष्ट्रपति का दायित्व सौंपने के लिए सभी का आभार व्यक्त करता हूं। मैं पूरी विनम्रता के साथ इस पद को ग्रहण करता हूं। सेंट्रल हॉल में आकर पुरानी यादें ताजा हुई, सांसद के तौर पर यहां पर कई मुद्दों पर चर्चा की है। मैं मिट्टी के घर में पला बढ़ा हूं, मेरी ये यात्रा काफी लंबी रही है।

राष्ट्रपति भवन से लेकर राजपथ और संसद भवन में खास तैयारियां की गई हैं। कार्यक्रम सुबह 10 बजे से शुरू हुआ है और करीब दोपहर सवा 2 बजे तक चलेगा।

इसके बाद रामनाथ कोविंद वित्त मंत्री अरुण जेटली के साथ प्रणब मुखर्जी को छोड़ने 10 राजाजी मार्ग जाएंगे, जहां जाते वक्त कार में दोनों के बैठने की दोनों की पोजीशन बदल जाएगी। फिर वहां से कोविंद राष्ट्रपति भवन लौटेंगे।

20 जुलाई को आए थे नतीजे : 

आपको बता दें कि 20 जुलाई को आए नतीजों में रामनाथ कोविंद को कुल वोट 10,98903 में से 702044 मिले हैं जबकि मीरा कुमार को 367314 वोट मिले। राष्ट्रपति बनने के लिए कोविंद को 5,52,243 वोट चाहिए थे।

जीत के बाद जताया था आभार : 

कोविंद ने जीत के बाद कहा कि सभी लोगों ने मुझपर जो विश्वास जताया है, उसके लिए सभी का आभारी हूं। मैं चुनाव में विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार को शुभकामनाओं के साथ धन्यवाद देता हूं। जिस पद का गौरव डॉ। राजेंद्र प्रसाद, सर्वपल्लि राधाकृष्णन, एपीजे अब्दुल कलाम जी और प्रणब मुखर्जी ने बढ़ाया है, उस पर पद पर रहना मेरे लिए गौरव की बात और जिम्मेदारी का एहसास करा रहा है। मेरे लिए ये भावुक क्षण है।