इजराइल से भारत को लाभ है, फिर भी तुष्टिकरण के कारण कोई PM इजराइल नहीं गया : रोहित सरदाना



नरेंद्र मोदी इजराइल गए है तो भारत में बहुत से मुस्लिम नेता नाराज हो गए है 
70 साल हो गए पर कभी कोई प्रधानमंत्री इजराइल गया ही नहीं, जबकि इजराइल दुनिया में तकनीक  में वर्ल्ड लीडर है 

1999 का युद्ध हुआ था तो 1 इजराइल ही था जिसने भारत की मदद की थी और हथियार दिए थे 
इसके  पहले 1971 में भी इजराइल ने भारत की मदद की थी 

रोहित सरदाना ने आज के अपने खास कार्यक्रम में कहा की 
कोई भी प्रधानमंत्री  इजराइल नहीं गया, क्यूंकि सभी ने मुस्लिम तुष्टिकरण को देशहित से पहले रखा 
मुस्लिम तुष्टिकरण के कारण, विदेश निति प्रभावित रही 

रोहित सरदाना ने कहा की कांग्रेस ने किसी प्रधानमंत्री को इजराइल इसलिए नहीं जाने दिया 
क्यूंकि कांग्रेस को डर था की मुस्लमान इस से नाराज हो जाएगा 

रोहित सरदाना ने कहा की, ये नेता है इनको देशहित से लेना देना नहीं है, इनको तुष्टिकरण और वोटबैंक से अधिक मतलब है 

बता दें की अटल बिहारी वाजपेयी भी इजराइल नहीं गए, क्यूंकि उनके सरकार में 
बहुत से सेक्युलर दल शामिल थे, जिन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी को इजराइल नहीं जाने दिया 

रोहित सरदाना ने कहा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इजराइल जाने का फैसला कर साफ़ कर दिया की 
इस सरकार के दौरान तुष्टिकरण को नहीं बल्कि देशहित को महत्त्व दिया जायेगा