G-20 की बैठक में जिनपिंग से नहीं मिलेंगे मोदी, बोले "अब चीन को ताकत दिखाई जाएगी"


भारत और चीन के बीच जारी ताजा विवाद के बीच एक बड़ी खबर आ रही है।
हैम्बर्ग में होने जा रहे जी-20 सम्मेलन में पीएम नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग एकदसूरे से मुलाकात नहीं करेंगे। चीन ने साफ कहा है कि सिक्किम सेक्टर में जारी विवाद ने ऐसे हालात पैदा कर दिए हैं कि राष्ट्रपति शी जिनिपंग भारत के पीएम से द्विपक्षीय वार्ता नहीं करेंगे।

चीनी विदेश मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जर्मनी में होने जा रहे जी-20 सम्मेलन में दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्ष मौजूद रहेंगे, लेकिन सीमा पर जारी विवाद के बीच फैसला किया गया है कि दोनों नेताओं के बीच मुलाकात नहीं होगी।

आपको बता दें कि इससे पहले सिक्किम सीमा पर उपजे विवाद को लेकर जारी तनातनी के बीच चीन की बौखलाहट सामने आ गई है। पड़ोसी मुल्क मीडिया के सहारे भारत पर लगातार हमले कर रहा है। अब चीनी मीडिया ने धमकी भरे अंदाज में कहा है कि अगर भारत ताजा सीमा विवाद में पीछे नहीं हटता तो पेइचिंग सिक्किम को भारत से आजाद करने की मांग को बढ़ावा देगा।

कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना के अखबार 'द ग्लोबल टाइम्स' में छपे संपादकीय में लिखा है, 'सिक्किम की आजादी का समर्थन करना नई दिल्ली से निपटने के लिए पावरफुल कार्ड साबित हो सकता है।' लेख में सिक्किम मसले पर चीन को अपने रुख पर दोबारा सोचने की सलाह दी गई है। 

लेख के मुताबिक, भारत को सीमा विवाद उकसाने का परिणाम भुगतना होगा। इसके अलावा, चीन को नई दिल्ली के उस क्षेत्रीय वर्चस्व की कोशिश पर पूर्णविराम लगाने की जरूरत है जोकि लगातार बढ़ते हुए अपने चरम पर पहुंच गया है।