दोनों नेतन्याहू भाई स्पेशल कमांडो थे, यूगांडा में घुसकर बचाई थी अपने नागरिको की जान



इजराइल पहुंचकर प्रधानमंत्री मोदी ने बेंजामिन नेतन्याहू के सामने उनके बड़े भाई योनि नेतन्याहू का जिक्र किया 
बता दें की  प्रधानमंत्री बनने से पहले बेंजामिन नेतन्याहू भी सेना में थे, और इनके बड़े भाई थे योनि नेतन्याहू, दोनों भाई स्पेशल कमांडो थे 

4 जुलाई 1976 का दिन था 
इस्लामिक आतंकियों ने इजराइल के 100 नागरिको को प्लेन सहित अगवा कर लिया था 
प्लेन हाईजैक कर आतंकी उसे अफ़्रीकी देश यूगांडा लेकर गए और वहां इजराइल से अपने आतंकी छोड़ने के लिए मोल भाव करने लगे 

पर इजराइल ने कभी आतंकियों के सामने घुटने नहीं टेके 
और इजराइल ने यूगांडा में अपने कमांडो भेजने का निर्णय किया, 7 इस्लामिक आतंकियों के साथ साथ यूगांडा ने भी अपने सैनिक आतंकियों के मदद में लगा दिए थे 

Image result for entebbe operation

प्लेन खड़ा था यूगांडा के एंतेब्बे एयरपोर्ट पर 
4 जुलाई 1976 को चुपके से इजराइल के 100 कमांडो यूगांडा में घुस गए और किसी को पता चलता उस से पहले इजराइल के कमांडोज ने एयरपोर्ट पर हमला कर दिया 

Image result for entebbe operation

कई घंटे तक ये ऑपरेशन चला और इजराइल ने सभी 7 आतंकियों और यूगांडा के  20 आतंकियों को ढेर कर दिया, इसके साथ उस एयरपोर्ट पर खड़े 13 प्लेन को भी इजराइल उड़ा दिया 
इस हमले के दौरान आतंकियों ने 3 इसरायली नागरिको की भी हत्या की 
पर इजराइल ने अपने सभी नागरिको को बचा लिया

Image result for yonatan netanyahu

इस ऑपरेशन में 7 आतंकी और यूगांडा के 20 सैनिक ढेर कर दिए गए, पर इजराइल का सिर्फ 1 कमांडो इस हमले में शहीद हुआ, और वो कोई और नहीं बल्कि योनि नेतन्याहू ही थे 

Yoni-candid.jpg

योनि नेतन्याहू, आज के इसरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन के बड़े भाई थे 
और आज प्रधानमंत्री मोदी ने भी उस जांबाज और बहादुर इसरायली कमांडो को याद किया