ब्रेकिंग : चीनी मोबाइल कंपनी ने आधिकारिक रूप से भारतीयों को बताया "भिखारी", पंजाब सर्विस टीम ने दिया इस्तीफा



चीनी मोबाइल कंपनी ओप्पो ने आधिकारिक रूप से भारत और भारतीयों के खिलाफ टिपण्णी की है
ओप्पो मोबाइल कंपनी ने भारतीयों को भिखारी बताया है 

पंजाब में ओप्पो की सर्विस टीम और ओप्पो मोबाइल कंपनी के अधिकारीयों के बीच विवाद हो गया 
जिसके बाद ओप्पो के अधिकारीयों ने भारतीयों को भिखारी बता दिया 

सर्विस टीम के कर्मचारियों ने बताया की ओप्पो मोबाइल कंपनी उन्हें समय से अधिक काम करवा रही थी, जिसका विरोध करने पर ओप्पो मोबाइल के अधिकारीयों ने भारतीयों को बुरा भला कहते हुए उन्हें भिखारी बता दिया 

और इसी के बाद पंजाब सर्विस टीम के भारतीय कर्मचारियों ने ओप्पो मोबाइल कंपनी से इस्तीफा दे दिया, इस्तीफे की कॉपी आप नीचे देख सकते है  

15 जुलाई 2017 को लिखा गया इस्तीफा लेटर 
भारतीय कर्मचारियों ने चीनी मोबाइल कंपनी से इस्तीफा देते हुए कहा की तुम हमारे देश और हमारे कल्चर को अपमानित करते हो इस लिए हम सभी पंजाब सर्विस सेण्टर की टीम के सदस्य तुम्हारी कंपनी से इस्तीफा देते है 

विवाद के बीच जब सर्विस सेण्टर के कर्मचारियों ने चीनी मोबाइल कंपनी के मैनेजमेंट को कहा की 
अधिक काम करवा रहे हो तो सैलरी बढ़ाओ, इसी के जवाब में चीनी मोबाइल कंपनी ने भारतीयों को भिखारी बता दिया और कहा की "तुम भारतीय भिखारी की तरह पैसा मांगते रहते हो"

और इसी के कारण ओप्पो की पंजाब सर्विस टीम ने इस्तीफा दे दिया 
आपको बता दें की ये वही चीनी मोबाइल कपनी है जिसकी चीनी मैनेजर ने नॉएडा में भारतीय तिरंगा फाड़कर कूड़े के ढेर में फेंका था 
जिसके बाद काफी बवाल हुआ था, और उस चीनी मैनेजर को ओप्पो कंपनी ने चीन वापस बुला लिया था 

Image result for chinese hr manager torn indian flag
चीनी मैनेजर द्वारा तिरंगा फाड़े जाने पर नॉएडा में हुआ था विरोध
भारतीयों से पैसा कमाने वाली ये कंपनी असल में भारतीयों से काफी नफरत करती है और 
बार बार इसका सबूत भी देती है

बार बार ये कम्पनियाँ भारत का अपमान करती है पर भारत में ये सफल भी होती रहती है 
साफ़ होता है की भारतीयों में भी कहीं न कहीं आत्मसम्मान की कमी है, तभी ये कम्पनियाँ भारत को 
गाली देकर भी भारत में अरबों का कारोबार कर लेती है 

* अमेज़न ने भारत और भारतीय संस्कृति को बार बार गाली दी उसके बाबजूद भी करोडो भारतीय आज भी अमेज़न इस्तेमाल कर रहे है 
* स्नैपचैट ने भी भारत को भिखारी बताया उसके बाबजूद स्नैपचैट आज भी भारत में अपना अच्छा कारोबार कर रहा है 
* ओप्पो कंपनी 1 बार तिरंगा फाड़ चुकी है, और अब भारतीयों को भिखारी बता दिया, फिर भी भारत के लोग सब भूल जायेंगे और ये कंपनी भी कारोबार करती रहेगी 

भारतीय खुद अपना आत्मसम्मान भूल चुके है इसलिए इन विदेशी कंपनियों को कोई फर्क नहीं पड़ता 
ये भारत और भारतीयों के अपमान से बिलकुल नहीं घबराती