हिन्दुओ को आतंकी बताने के लिए सोनिया-मनमोहन ने असली आतंकवादियों को स्वतंत्र कर दिया




ये ऊपर में जो शख्स तस्वीर में है इसका नाम है सफ़दर नागोरी 
समझौता ट्रैन में बम ब्लास्ट हुआ था, और ये ब्लास्ट इस्लामिक आतंकियों ने किया था 

जब ब्लास्ट हुआ तो उसके बाद प्रारंभिक जांच में सुरक्षा एजेंसियों ने सफ़दर नागोरी को गिरफ्तार किया था 
और इस से बकाया पूछताछ हुई थी 
सफ़दर नागोरी ने पूछताछ में स्वीकार किया था की, समझौता ब्लास्ट पाकिस्तान के इशारे पर किया गया था 

पर आप जानकार चौंक जायेंगे की इस आतंकी के कुबूलनामे के बाद भी
सोनिया और मनमोहन सिंह की सरकार ने आतंकियों  को हमेशा हमेशा के लिए पाकिस्तान भगा दिया 

और मासूम और निर्दोष हिन्दुओ को हिन्दू आतंकवाद के नाम पर गिरफ्तार कर लिया 
देखिये उस ज़माने में  बाकायदा इस आतंकी न टेस्ट किया गया था जिसमे इसने सारी चीजों को स्वीकार भी किया था 

पर इसका कुबूलनामा और ये वीडियो सब दबा दिया गया 
टाइम्स नाउ ने एक खुलासे के तहत इस वीडियो को दुनिया के सामने पेश किया है 


अब आप सोच सकते है की सोनिया-मनमोहन सरकार किस स्तर तक भी गिरने को तैयार थी 
ताकि हिन्दुओ को आतंकवादी बता दिया जाये 
इन्होने तो असली आतंकवादियों को भी छोड़ दिया