बुरहान वानी को जिन्दा रखता, और उनसे बातचीत के जरिये मसला हल करता : कांग्रेस नेता




आतंकवादियों को जितना सम्मान कांग्रेस के यहाँ मिलता है शायद ही पाकिस्तान में भी मिलता हो 
बिलकुल दामाद की तरह ख्याल रखने की परंपरा है कांग्रेस में 
कांग्रेस के नेता आतंकियों के लिए इतने सम्मानित शब्द इस्तेमाल करते है, की बस देखते ही बनता है 

कांग्रेस का वरिष्ठ नेता है सैफुद्दीन सोज, जो कई बार मंत्री भी रह चूका है 
बुरहान वानी के बारे में कांग्रेस के इस वरिष्ठ नेता ने क्या शब्द इस्तेमाल किये है, ये आप पढ़ सकते है 


सबसे  पहली चीज जो ये कांग्रेस नेता कह रहा है, की सेना ने बुरहान वानी को मारकर ठीक नहीं किया 
मैं होता तो बुरहान वानी को जिन्दा रखता और "उनसे", जी हां "उनसे" डायलॉग करता, यानि जिस तरह हुर्रियत के आतंकियों से बातचीत की जाती है, डायलॉग किया जाता है 
कोंग्रेस आतंकी बुरहान वानी से भी डायलॉग करती 

कांग्रेस के नेता हुर्रियत के आतंकियों से तो डायलॉग करती ही है 
पिछले ही दिनों मणिशंकर अय्यर कई कई हुर्रियत के आतंकियों के घरों में गया भी था, कांग्रेस बुरहान वानी, ओसामा बिन लादेन, हाफिज सईद जैसों से भी डायलॉग कर लेगी इसमें क्या है 

कांग्रेस एक ऐसी पार्टी है जिसने भारत को कश्मीर, चीन समस्या तो दी ही 
साथ ही साथ वामपंथी नक्सलवाद और आतंकवाद की समस्या भी कांग्रेस की ही देन है, इस्लामिक कट्टरपंथ को कांग्रेस ने ही बढ़ाया है, और देश के लिए नासूर बना दिया है 
ये आतंकवादियों से बातचीत करेंगे जो हमारे सेना के जवानो का क़त्ल करते है, कांग्रेस उन आतंकियों से बातचीत करेगी