भारत में कभी भी हो सकता है इस्लामिक विद्रोह, तैयार हो चुकी है फौज, यकीन नहीं है तो देखिए



अक्सर ही ये सुनने में आता रहता है कि केरल में संघ कार्यकर्ता की हत्या हुई तो कभी बीजेपी या किसी हिन्दू कार्यकर्ता की हत्या. उनके साथ मारपीट की ख़बरें तो करीब-करीब हर रोज ही आ जाती हैं, लेकिन भारत के सांप्रदायिक माहौल को देखते हुए ऐसी घटनाओं पर लोगों को जल्दी विश्वास नहीं होता. लेकिन सोशल मीडिया में अब एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है जिसे देखकर आप के पैरों तले जमीन ही खिसक जायेगी. देखी हुई बात झुठलाई नहीं जा सकती, नीचे दिए विडियो को देखकर आप भी इन घटनाओं पर ना केवल विश्वास करेंगे बल्कि आने वाले खतरे को भी पहचान लेंगे

क्या आप जानते हैं कि PFI यानी पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया ने बाकायदा केरल में अपनी एक सेना तैयार कर ली है और ये कोई साधारण सेना नहीं है बल्कि किसी देश की आर्मी की तरह बाकायदा इनकी ट्रेनिंग होती है और सेना के सैनिक परेड भी करते हैं. हैं ना यकीन से परे ये बात कि 60 साल के कांग्रेस के शासन में हमारे ही देश भारत में भारतीय फ़ौज के अलावा भी एक और समानान्तर फ़ौज तैयार खड़ी है और देश के मीडिया के लिए या कोई खबर ही नहीं है.

ऐसा नहीं है कि मीडिया ये बात जानता नहीं, बस देश के लोगों को सच्चाई बताने की जरुरत नहीं समझता. हालांकि अब यह देश की सुरक्षा के लिए चिंता का विषय बनता जा रहा है. यह सेना केरल में हिन्दुओं के खिलाफ नफरत फैलाने का काम कर रही है. ख़बरों के मुताबिक़ PFI केरल में लव जिहाद की घटनाओं में भी शामिल हो गया है. केवल हिन्दू ही नहीं बल्कि 2015 में एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) की विशेष कोर्ट ने इस कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के 13 लोगों को केरल के एक ईसाई प्रोफेसर टीजे जोसेफ का हाथ काटने के लिए भी दोषी ठहराया था.

अब मोदी सरकार में ये बात धीरे-धीरे खुल रही है. इससे पहले कि बहुत देर हो जाए और भारत की दशा भी सीरिया और इराक़ जैसी और हिंदुओं की हालात यजीदियों जैसी हो जाए, केंद्र व् राज्य सरकारों को मिलकर ऐसे गैर-सरकारी संगठनों पर प्रतिबन्ध लगाकर उनके खिलाफ उचित कार्यवाही करनी ही चाहिए.