ब्रेकिंग न्यूज़ : तेजस्वी यादव ने कहा, "मोदी और अमित शाह ने मुझे फंसाया, दोनों का सफ़ाया कर दूंगा"



 बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भ्रष्टाचार के आरोपों पर सफाई दी हैं। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार को लेकर उनकी जीरो टॉलरेंस नीति है।
 तेजस्वी ने कहा है कि सत्ता में आने के बाद कुछ लोग बदला ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी और अमित शाह ने उन्हें फंसाया है, हम मिलकर उनका सफाया करेंगे। तेजस्वी ने BJP को मुंहतोड़ जवाब देने की बात कही है। 

इससे पहले मंगलवार को जेडीयू ने प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक के बाद आरजेडी को तेजस्वी पर फैसला लेने के लिए चार दिन का अल्टिमेटम दिया, तो बुधवार को पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव खुद तेजस्वी के बचाव में सामने आ गए।

तेजस्वी के इस्तीफे की मांग की सिरे से खारिज करते हुए लालू ने कहा कि तेजस्वी किसी की कृपा से उपमुख्यमंत्री नहीं बने हैं। लालू ने बयान तो बीजेपी का नाम लेकर दिया, लेकिन साफ था कि उनके निशाने पर नीतीश कुमार भी थे। उन्होंने कार्रवाई के पीछे राजनीतिक साजिश की बात को फिर दोहराया।

मंगलवार को जेडीयू की बैठक में नीतीश ने कहा था कि वह करप्शन के खिलाफ अपनी नीति से समझौता नहीं करेंगे। तेजस्वी को राजनीतिक बयानों से नहीं, तथ्यों के साथ अपनी बात रखनी चाहिए। 

इसके जवाब में बुधवार को एक न्यूज चैनल से बातचीत में लालू ने कहा, 'तेजस्वी इनकी कृपा से उपमुख्यमंत्री नहीं बना है। उसे बिहार की जनता, आरजेडी और महागठबंधन ने उपमुख्यमंत्री बनाया है। तेजस्वी अच्छा काम कर रहा है...आगे बढ़ रहा है...नौजवान है। आज तक किसी के बेटा-बेटी पर राजनीतिक साजिश के तहत कार्रवाई नहीं हुई है।'

हमारे देश में और भी बहुत कुछ अच्छा हो रहा है. पता नही मीडिया उन खबरों को क्यों नही छापती. एह घटिया न्यूज़ छाप छाप कर इन बेवकूफों को हीरो बनाने में लगी है...

बीजेपी द्वारा महागठबंधन टूटने की सूरत में नीतीश को समर्थन दिए जाने की बात पर लालू ने तंज कसते हुए कहा कि नीतीश को सब्जबाग दिखाकर बीजेपी फंसाना चाहती है। भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर उन्होंने बीजेपी को भी घेरने की कोशिश की। उन्होंने कहा, 'ये लोग खुद इलेक्शन में चार-चार हेलिकॉप्टर में घूमते हैं, रैलियों के लिए कहां से पैसा लाते हैं।'

 लालू ने आगे कहा, 'मेरे रेल मंत्री रहते कोई घोटाला नहीं हुआ। टेंडर घोटाले को लेकर झूठी बातें फैलाई गईं। उस वक्त तेजस्वी नाबालिग था।' आरजेडी चीफ ने कहा कि वह हर चीज का हिसाब देने को तैयार हैं।

 महागठबंधन के टूटने की आशंका को खारिज करते हुए लालू ने कहा, 'फांसी पर चढ़ जाऊंगा, लेकिन झुकूंगा नहीं। महागठंधन को टूटने नहीं दूंगा।' उन्होंने कहा कि लड़ाई में कूद गए हैं तो अब बिना जीते नहीं निकलेंगे। लालू ने कहा कि विपक्षी एकता लगातार मजबूत हो रही है। उन्होंने बताया कि मायावती, ममता बनर्जी, सोनिया गांधी, राहुल गांधी और डीएमके नेता कनिमोई ने उनसे फोन पर बात की है।