चीनी माल की तरह है चीनी धमकी, चीन की हैसियत नहीं की वो भारत से युद्ध करे : इजराइल


भारत और चीन का इन दिनों सरहद पर विवाद चल रहा है। लेकिन एक बात हमें माननी ही पड़ेगी कि भारतीय सरहद पर हमेशा तनाव रहता ही है। एक तरफ पाकिस्तान अपनी औकात दिखा रहा है तो एक ओर चीन धमकी दे रहा है।

भारत के कई देशों के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं। PM मोदी कुछ दिन पहले की 5 देशों की यात्रा करके वापिस लौटे है। अमेरिका, रूस और इजरायल में तो मोदी शानदार तरीके से स्वागत हुआ था। 

चीन भारत विवाद पर इजरायल ने कहा है कि चीन की धमकियों से भारत को डरने की जरूरत नहीं है। क्योंकि उसकी धमकी उसके माल की तरह ही है जो ज्यादा नहीं चलेगी।

जी-20 की बैठक में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग आपस में मिले भी, पर ऐसा नहीं लगता कि इससे बात कुछ बनेगी। भारतीय जनता चीन के प्रति अपना आक्रोश दिखाते हुए उसके उत्पाद का बहिष्कार कर अपनी जागरूकता का परिचय दे रही है। 

देखा जाए, तो चीन की यह धमकी बिलकुल उसके माल की तरह ही है। वह भारत पर हमले की हिमाकत कभी नहीं कर सकता। इसकी एक नहीं बल्कि कई वजहें हैं।

इजरायल भारत को सैन्य शक्ति और भारी मात्रा में हथियार भी देने वाला है। इजरायल ने कहा हैकि वो हर कीमत पर अपने दोस्त भारत के साथ हूं। चीन को हम चेतावनी देते हैं कि अगर उसने भारत से जल्दी अपना विवाद नहीं सुलझाया तो हम तबाही मचाने में देर नहीं करेंगे। फैसला चीन के हाथ में है।