कर्णाटक को कश्मीर बनाकर भारत से तोड़ने का काम कांग्रेस ने किया शुरू, कर्णाटक के लिए अलग झंडा !



2014 में सरकार जाने के बाद भी सोनिया गाँधी और कंपनी अर्थात कांग्रेस अपने मिशन भारत तोड़ो में जीजान से जुटी हुई है, और कांग्रेस का नया कारनामा भी सामने आ चूका है 

पहले आपको बता दें की कश्मीर भारत में मिल गया था 
उसके बाद भी नेहरू ने कश्मीर का अलग संविधान और अलग झंडा लागू करवा दिया, और अब कांग्रेस भारत के एक और राज्य के साथ ऐसा करने में जुट गयी है 

कर्णाटक में कांग्रेस की सिद्धारमैया सरकार है 
देखें इस सरकार का नया कारनामा 


कांग्रेस की कर्णाटक सरकार ने 9 लोगो की एक टीम बना दी है, ये टीम कर्णाटक के लिए अलग झंडे को डिज़ाइन करने में लगी हुई है 

बता दें की भारत में सिर्फ एक ही झंडा है वो है तिरंगा, पर जम्मू कश्मीर में तिरंगे के साथ साथ अलग झंडा भी है, नेहरू के कारण, अब ये कांग्रेस उसी तरह कर्णाटक का भी अलग झंडा बनाने में लगी है 

कर्णाटक को भी कश्मीर बनाकर भारत से तोड़ने की मंशा के साथ कांग्रेस पार्टी काम कर रही है 
पहले कांग्रेस ने पुरे उत्तर पूर्व को ईसाई बनाया, और केरल के बाद तमिलनाडु और आंध्र/तेलंगाना में भी यही किया, कर्णाटक में ईसाई मिशनरियां इतनी सफल नहीं हो पायी तो कांग्रेस वाला अलग झंडा बना रही है 

हर तरह से कांग्रेस भविष्य में भारत के कई टुकड़े कर देने की दिशा में काम कर रही है