भारत के खिलाफ बहुत बड़ा षड्यंत्र, कभी हां कभी ना कर रही कांग्रेस, राहुल गाँधी के गिरफ़्तारी की मांग !



भारत के खिलाफ बहुत बड़ा षड्यंत्र, कभी हां कभी ना कर रही कांग्रेस, राहुल गाँधी के गिरफ़्तारी की मांग ! 

कांग्रेस पाकिस्तान के बाद चीन से मिलकर भारत के खिलाफ बड़ा षड्यंत्र रच रही है 
और आज ऐसा ही बहुत कुछ हुआ जो की बेहद गंभीर है 

हुआ ये की आज सुबह सुबह लोगों की नजर पड़ी चीनी दूतावास की वेबसाइट पर, चीनी दूतावास ने अपनी वेबसाइट पर कहा की, राहुल गाँधी ने चीनी राजदूत से मुलाकात की है 

देखिये चीनी वेबसाइट का स्क्रीनशॉट

चीनी दूतावास ने बताया, राहुल गाँधी ने चीनी राजदूत की की मुलाकात 

उसके आधे घंटे के बाद कांग्रेस पार्टी ने ऐसी किसी भी मुलाकात से इंकार कर दिया 

कहा की राहुल गाँधी की कोई मुलाकात चीनी राजदूत से नहीं हुई है 

देखिये वामपंथी पत्रकार जो की कांग्रेस की करीबी है उसका ट्वीट 

राहुल गाँधी के दफ्तर ने कहा, "कोई मुलाकात नहीं हुई" 


राहुल गाँधी के दफ्तर, यानि कांग्रेस ने इंकार कर दिया, राहुल गाँधी ने चीनी राजदूत से कोई मुलाकात नहीं की 
और इसी के बाद चीनी वेबसाइट ने भी अपनी खबर को वेबसाइट से डिलीट कर दिया 

देखें चीनी वेबसाइट का स्क्रीनशॉट 

चीनी वेबसाइट ने राहुल गाँधी और चीनी राजदूत के मुलाकात की खबर डिलीट की 


पहले चीनी वेबसाइट ने बताया की, राहुल गाँधी और चीनी राजदूत की मुलाकात हुई 
फिर राहुल गाँधी के दफ्तर ने मुलाकात से इंकार कर दिया 
तो चीनी वेबसाइट ने भी अपनी खबर को वेबसाइट से  डिलीट कर दिया 

पर उसके बाद अब राहुल गाँधी और चीनी राजदूत की मुलाकात की तस्वीर बाहर आ गयी 

राहुल  गाँधी चीनी राजदूत के साथ 

यानि राहुल गाँधी के दफ्तर ने पहले झूठ बोला, चीनी राजदूत से राहुल गाँधी ने गुपचुप मुलाकात की 
और इस मुलाकात में आनंद शर्मा भी शामिल था जो की वरिष्ठ कांग्रेस नेता है 

और अब देखिये अब कांग्रेस पार्टी क्या कह रही है 

कांग्रेस ने स्वीकार किया राहुल गाँधी ने  चीनी राजदूत से मुलाकात की 


कांग्रेस ने राहुल गाँधी और चीनी राजदूत की तस्वीर लीक होने के बाद  स्वीकार कर लिया की हां राहुल गाँधी और चीनी राजदूत की मुलाकात हुई 

यानि पहले कांग्रेस ने झूठ बोला, तस्वीर लीक हो गयी तो स्वीकार करना पड़ा 
फिर अब देखिये कांग्रेस का नेता क्या कह रहा है 


कांग्रेस कह रही है की, हां मुलाकात हुई पर ऐसे ही हुई, इसे ज्यादा नहीं उछालना चाहिए, इस बात को तूल नहीं देना चाहिए  

पहले चीनी बोला, मुलाकात हुई 
फिर राहुल गाँधी के दफ्तर ने बोला, नहीं हुई कोई मुलाकात 
चीनी वेबसाइट ने खबर डिलीट किया 
फिर फोटो आ गयी  मुलाकात की, तो कांग्रेस बोली हां मुलाकात हुई, पर ऐसे ही कर ली मुलाकात 

ऐसे ही मुलाकात कर ली, तो पहले छुपाया क्यों जा रहा था, झूठ क्यों बोला जा रहा था की मुलाकात नहीं की 

कितना बड़ा षड्यंत्र रच रही है कांग्रेस पार्टी इस देश के साथ 
पाकिस्तान के बाद चीन से गुप्त बैठकें की जा रही है 

राहुल गाँधी के तत्काल गिरफ़्तारी की मांग भी की जा रही है 


कांग्रेस पार्टी देश के साथ कोई बड़ा षड्यंत्र रच रही है, चीन से  गुप्त बैठके की जा रही है 
और राहुल गाँधी चुपचाप, गुप्त तरीके से मुलाकाते कर रहा है, फिर झूठ बोल रहा है,  बहुत बड़ा षड्यंत्र है, और राहुल गाँधी से पूछताछ जरुरी है