कैसा देश बन गया भारत, हिन्दुओ का कश्मीर में कत्लेआम हुआ, और उसकी जांच तक नहीं होगी !


हिन्दू जो कश्मीर में हज़ारों साल से रह रहे थे
कश्मीर मूल रूप से हिन्दुओ का था, वहां उनको अल्पसंख्यक होना पड़ा, और अल्पसंख्यक होने के बाद, हिन्दुओ को गोलियों से भून दिया गया, सिर्फ इसलिए धारदार हथियारों से काट दिया गया क्योंकि वो हिन्दू थे

हिन्दू बच्चों का बेरहमी से कत्लेआम किया गया
हिन्दू महिलाओं का बार बार बलात्कार कर क़त्ल कर दिया गया



5 लाख से ज्यादा हिन्दुओ को भगा दिया गया और इतने सालों के बाद आखिरकार भारत के न्याय ने कश्मीर के हिन्दुओ के साथ अन्याय कर दिया
सेक्युलर न्याय प्रणाली ने इंसानियत का गला घोंट दिया

इतने साल कश्मीरी हिन्दू दर दर भटकते रहे 
जम्मू कश्मीर की अदालतें और हाई कोर्ट से न्याय नहीं मिला 
तो कश्मीरी हिन्दुओ ने सुप्रीम कोर्ट में जांच की याचिका लगाई
अरे इतने हिन्दुओ का क़त्ल हुआ जांच तो कराओ

कश्मीरी हिन्दुओ के समूह ने 215 अलग अलग क़त्ल लूट बलात्कार के मामलों की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दी, और कोर्ट ने जांच तक से इंकार कर दिया

भैया जांच तक से इंकार, 5 लाख हिन्दू दर दर की ठोकर खा रहे है और जांच तक से इंकार कर दिया गया
न्याय तो छोड़िए आज भारत की सर्वोच्च अदालत ने जांच तक से इंकार कर दिया 



इस भारत में जो की एक सेक्युलर भारत है 
इस भारत में हिन्दुओ को कभी न्याय मिल ही नहीं सकता और ये बात आज प्रमाणित हो गयी
सेक्युलर भारत में हिन्दू कीड़ा मकोड़ा है, जिसके कत्लेआम के बाद न्याय तो छोड़ो जांच भी नहीं की जायेगी

भारत के एक हिस्से में हिन्दुओ की लाशें बिछा दी गयी
पर जांच भी नहीं की जायेगी
इस सेक्युलर भारत में हिन्दुओ की कोई स्तिथि नहीं
हिन्दुओ को ये सेक्युलर भारत बदलना होगा या लुप्त होने तक इसी तरह अपमान का घोंट पीकर रहना होगा