अवार्ड वापसी गैंग के पास अब न अवार्ड रह गया और न ही बिहार, हुआ उनका मुँह काला : डॉ डेविड



बिहार में इतना बड़ा बदलाव हुआ है की कइयों की तो नींद अबतक उडी हुई है 
उन्हें नींद नहीं आ रही है, और पूरा का पूरा अवार्ड वापसी गैंग इसमें शामिल है 

आपको याद होगा की 2015 में बिहार चुनावों से पहले ही अवार्ड वापसी गैंग ने अपना अभियान शुरू किया था, हिन्दुओ को असहिष्णु बताकर अवार्ड वापसी का कार्यक्रम किया गया था 
पर असल में अवार्ड वापसी का पूरा कार्यक्रम नरेंद्र मोदी और बीजेपी को बिहार में रोकने के लिए किया गया था 

बिहार चुनावों को प्रभावित करने के लिए अवार्ड वापसी का पूरा कार्यक्रम वामपंथियों और कांग्रेस के इशारे पर किया गया था, देखते ही देखते दर्जन भर से अधिक कथित बुद्धिजीवियों ने अपने अवार्ड्स को वापस किया था 
गौर करने वाली बात ये थी की इन सभी को ही कांग्रेस की सरकार 
के दौरान अवार्ड मिला था 


इन सभी ने अवार्ड तो वापस किया पर 1 ने भी अवार्ड के साथ मिली राशि को वापस नहीं किया खैर 
अब बिहार में बहुत बड़ा बदलाव आया है और नितीश कुमार ने घरवापसी कर ली है 
और वो दुबारा NDA में आ गए है 

बिहार से न सिर्फ लालू बल्कि कांग्रेस भी सत्ता से आउट हो गयी है 
और सबसे बड़ा झटका तो इन अवार्ड वापसी वालो को लगा है, डॉ डेविड फ्रॉली ने भी अवार्ड वापसी गैंग पर तंज कसा है 

डॉ डेविड फ्रॉली ने कहा की नितीश कुमार की NDA में घरवापसी से अवार्ड वापसी गैंग का मुँह काला हो गया है, वो न घर के रहे न ही घाट के, क्यूंकि अवार्ड वापसी गैंग के पास अब न अवार्ड रहा है 
और न ही बिहार