इस्लामी खलीफा बगदादी भेजा गया 72 हूरों के पास, मोसुल, रक्का हुआ इस्लामी आतंक से मुक्त !


एक बार फिर खूंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस के सरगना अबु बकर अल-बगदादी के मारे जाने की खबर है। सीरिया के एक निगरानी समूह ने बगदादी की मौत का दावा किया है।

मानवाधिकार के लिए काम करने वाले सीरियाई निगरानी समूह का दावा है कि उनके पास ISIS सरगना की मौत की पुख्ता जानकारी है। इससे पहले रूस ने बगदादी के मारे जाने का दावा किया था।

इसी साल जून में रूस ने कहा था कि बगदादी हवाई हमलों में मारा गया। रूस के रक्षा मंत्रालय ने कहा था सीरिया के रक्का शहर के बाहरी इलाके में मौजूद ISIS आतंकियों के समूह पर उन्होंने हवाई हमला किया। रक्षा मंत्रालय ने दावा किया था कि इस हवाई हमले में बगदादी भी मारा गया।

रूस के अलावा ब्रिटेन के एक युद्ध मॉनिटरिंग ग्रुप ने भी बगदादी की मौत का दावा किया था। ग्रुप के डायरेक्टर ने ISIS के एक वरिष्ठ लीडर के हवाले से बगदादी की मौत पर मुहर लगाई थी। हालांकि, बगदादी की मौत कब हुई, इस बात की कोई जानकारी नहीं दी गई है।

हालांकि, ISIS के आतंक का सबसे बड़ा शिकार हुए इराक ने अब तक बगदादी के मारे जाने की पुष्टि नहीं की है। हाल ही में इराक ने मोसुल पर अपनी जीत का झंडा जरूर फहरा दिया है, मगर बगदादी जिंदा या मर चुका है, इसे लेकर इराक ने अभी कोई जानकारी नहीं दी है। 

वहीं, दूसरी तरफ अमेरिका ने अब तक बगदादी की मौत को लेकर कुछ स्पष्ट नहीं किया है। पेंटागन बगदादी की मौत पर पुख्ता जानकारी न होने की बात कह चुका है।