2 करोड़ की रिश्वत ठुकराकर पकड़वाई 7 करोड़ की शराब, बोले - "केजरीवाल नहीं हूँ जो पैसा लेकर.....


लखनऊ में एक दरोगा की इमानदारी की खबर सुनकर आप भी उसे सलाम करेंगे। आपने पुलिस वालों को रिश्वत लेते तो बहुत देखा होगा लेकिन इस दरोगा ने अपना काम पूरी ईमानदारी से निभाया और रिश्वत देने वालों को जेल में डाल दिया।

जानकारी के अनुसार यह मामला लखनऊ ,हसनगंज कोतवाली का है। इस इमानदार दरोगा चन्द्र प्रकाश यादव को लोग सोशल मीडिया पर बधाई दे रहे हैं। सोशल मीडिया पर आ रही खबरों के मुताबिक इमानदार दरोगा को आरोपियों ने 2 करोड़ रुपए का लालच दिया।

 मगर यह नहीं माने और अपनी इमानदारी पर डटे रहे और शराब माफियाओं को पकड़ लिया। इन आरोपियों के पास  सात करोड़ रुपए शराब थी। 

वहीं हसनगंज पुलिस की ईमानदारी व कर्तव्यनिष्ठा को देखते हुए पार्षद और भाजपा नगर उपाध्यक्ष ने सोमवार को हसनगंज पुलिस को 5100 रुपये व स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया।

राजधानी में शनिवार को हसनगंज पुलिस ने चेकिंग के दौरान डालीगंज क्रॉसिंग के पास इनोवा को पकड़ा था। उसकी के डिग्गी में साठे सात करोड़ रुपये की नई करेंसी बरामद हुई थी। पूछताछ में पता चला है कि यह रुपये हजरतगंज स्थित शिव शक्ति ट्रेडर्स के हैं। पुलिस ने करेंसी के साथ आठ लोगों गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

पुलिस की इस कार्य को देखते हुए हसनगंज के पार्षद रणजीत सिंह एवं भाजपा नगर उपाध्यक्ष घनश्याम अग्रवाल ने सभी पुलिसकर्मियों को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया।

इस मौके पर पार्षद ने कहा कि पुलिस के द्वारा किये गए इस सराहनीय कार्य से लोगों में पुलिस के प्रति विश्वास बढ़ा है। इस मौके पर वीके तिवारी, संजय यादव, राकेश लक्खा, कुलदीप जोशी, सद्दाम सहित कई लोग मौजूद रहे।