1 भी हिन्दू त्यौहार सुरक्षित नहीं, किसी को अब भी इस्लामी आतंकवाद पर संदेह है ? : प्रशांत पटेल



हज यात्रियों पर भारत में कभी हमला हुआ है, नहीं 
हज यात्रा मुस्लिम करते है, इसलिए आतंकवादी कभी हज यात्रा को निशाना नहीं बनाते 

पर अमरनाथ यात्रा हो,  कांवड़ यात्रा हो 
हर बार आतंकी हमले का अलर्ट जारी कर दिया जाता है, अमरनाथ यात्रा पर दर्जनों बार हमले किये गए है 
हर बार इस्लामिक हमलावरों ने महादेव के भक्तों की निर्मम हत्या की है 

और सिर्फ अमरनाथ या कांवड़ यात्रा ही क्या 
आप होली लीजिये, जन्माष्टमी, राम नवमी, हनुमान जयंती, दीपावली, कुम्भ 
ऐसा कोई हिन्दू त्यौहार नहीं जिसपर आतंकी हमले अलर्ट जारी नहीं किया जाता 

हिन्दुओ के मन में डर भरने की हर बार कोशिश की जाती है, दीपावली पर इस्लामिक आतंकियों का ऐसा साया रहता है की कई लोग भीड़ भाड़ वाले इलाकों में भी जाने से डरते है 

ऐसा 1 भी हिन्दू त्यौहार नहीं जो सुरक्षित हो 
मशहूर वकील प्रशांत पटेल ने भी इसी तथ्य को ट्वीट किया है, पहले देखें उनका ट्वीट 


1 भी हिन्दू त्यौहार सुरक्षित नहीं है, सभी पर आतंकी हमलो का डर रहता है, आतंकी हमले किये जाते  है 
पर हमारे देश में क्या चर्चा होती है ? 

* आतंकवाद का कोई मजहब नहीं होता, आतंकी का कोई मजहब नहीं होता 

अगर ऐसा है तो महादेव के भक्तों की हत्या  4 मुस्लिम आतंकियों ने क्यों की, जिसमे से 2 पाकिस्तानी मुस्लिम थे और 2 कश्मीरी मुस्लिम 

हमारे देश में आतंकवाद के असल जड़ पर कभी बहस ही नहीं होती, और न ही आतंकवाद के असल जड़ को काटने पर चर्चा होती है, एक्शन तो दूर की बात है 
और जबतक आतंकवाद के असल समस्या यानि  इस्लामिक कट्टरपंथ के खिलाफ एक्शन नहीं होगा, आतंकवाद कभी रोका ही नहीं जा सकता