मोदी आये तो बिजली आयी, वरना 18000 गाँव ने कभी देखी ही नहीं थी "बिजली"


मोदी पिछले दिनों नीदरलैंड में एक कार्यक्रम में भारतियों को सम्बोधित कर रहे थे 
मोदी ने वहां एक बात कही थी, जो आपको याद होगा 

मोदी ने कहा की, 2014 में मैं प्रधानमंत्री बनकर दिल्ली आया तो मैंने संकोच करते हुए एक अधिकारी से पूछा की क्या कोई ऐसे इलाके है भारत में जहाँ बिजली नहीं पहुंची है 

मोदी ने कहा की, ऐसा सवाल करते हुए बड़ा संकोच हो रहा था 
क्यूंकि मैंने सोचा की, 70 साल हो गए, भारत देश है, ऐसा कोई गाँव थोड़ी होगा जहाँ कभी बिजली नहीं आयी 

मोदी ने कहा की, संकोच करते हुए मैंने अफसर से पूछ लिया 
तो अफसर ने बताया की, ऐसे भारत में 18000, जी हां अट्ठारह हज़ार गाँव है जहाँ कभी बिजली पहुंची ही नहीं, ये तमाम गाँव 2014 में भी 18वी सदी की तरह रहने को मजबूर थे 

मोदी ने नीदरलैंड में बताया की, मैंने अफसरों से कहा की कबतक यहाँ बिजली पहुंचेगी तो बोले की 7-8 साल लगेंगे, मैंने कहा नहीं 3 साल में करो, और 2014 से लेकर 2017 तक अब सिर्फ 2500 गाँव ऐसे बचे है जहाँ बिजली नहीं है, 2018 तक भारत के 100% गाँव में बिजली हो जाएगी 

और ऊपर जो अख़बार की कटिंग है, वो भी बता रही है की 
पिछली सरकारों ने देश में क्या काम किया था, आज 2017 में हमारे देश के गाँव में पहली बार बिजली पहुँच रही है, लोगों के आंसू नहीं आएंगे क्या 

मोदी आये तो बिजली आयी, अन्यथा इस दिशा में पिछली सरकार कोई कार्य ही नहीं करती थी